हर 6 मिनट में एक आदमी को रोजगार देकर रतन टाटा की कंपनी TCS ने रिकॉर्ड बनाया.

ratan

रतन टाटा भारत को आगे बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास प्रयत्नशील रहते हैं। टाटा कंसलटेंसी सर्विस इंडियन रेलवे के बाद दूसरी ऐसी कंपनी बन गई है जिसमें 50 लाख से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं

अधिक रोजगार देने वाले मामले में मुकेश अंबानी और अजीम प्रेमजी की कंपनी को टाटा कंसलटेंसी कंपनी ने पीछे छोड़ दिया है। टीसीएस एसेंचर के बाद यह दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी बन गई है।

रतन टाटा की टीसीएस कंपनी जहां कमाई के मामले में सबसे ऊपर रहती है वहीं दूसरी ओर देश के नौजवानों को रोजगार देने में भी
यह आगे रहती है। अप्रैल से लेकर जून तब की बात अगर की जाए तो इस कंपनी में रोज 225 से ज्यादा लोगों को रोजगार दिया है। रोजगार देने के मामले में यह सबसे बड़ी प्राइवेट कंपनी बन गई है। यह दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी है और दूसरी सबसे बड़ी संस्थान भी है।

टीसीएस में नौकरी करने वालों की संख्या 5 लाख से भी ज्यादा हो गई है। कंपनी की जानकारी के अनुसार कंपनी को पहली तिमाही में मुनाफा पिछले की समान अवधि के मुकाबले सबसे ज्यादा हुआ है। जबकि मार्च तिमाही के मुकाबले कम देखने को मिला।

कंपनी ने पेश की रिकॉर्ड की मिशाल

भारत की सबसे बड़ी आईटी टीसीएस में जून 2021 को समाप्त तिमाही में 20,409 कर्मचारियों को नौकरी दी। जो किसी भी माने में सबसे ज्यादा है। इस कंपनी में कुल कर्मचारियों की संख्या 50 लाख से भी ज्यादा हो गई है। कंपनी ने 8.6 प्रतिशत की एट्रिशन दर्ज की है। कम्पनी वित्त वर्ष 20-22 में 40 हजार फ्रेशर्स को नौकरी देगी बीते वित्त वर्ष में भी कंपनी ने 40 हजार फ्रेशर्स हो रखा था।

दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी

टीसीएस दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी में से एक है जिसमें लग 5.37 लाख लोग काम करते हैं। अगर बात देश की, कि जाए तो सबसे बड़ी प्राइवेट कंपनी टीसीएस ही है। जहां इंफोसिस में करीब 2.5लाख कर्मचारी हैं वही एचसीएल टेक और विप्रो में 1.6 लाख और 1.9 लाख कर्मचारी हैं।

कंपनी में सबसे ज्यादा कर्मचारी

देश के प्राइवेट और सरकारी कंपनियों को अगर मिलाकर देखा जाए तो रेलवे इंडियन के बाद टीसीएस एकमात्र ऐसी कंपनी है जहां 5 लाख से भी ज्यादा कर्मचारी काम कर रहे हैं। इंडियन रेलवे में 10 लाख से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं। वहीं दूसरी ओर आदित्य बिरला जैसे निजी कंपनी की बात की जाए तो वहां 1.2 लाख से अधिक कर्मचारी हैं। एलएनटी में 3.37 लाख से ज्यादा रोजगार प्राप्त लोग हैं। अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज में लगभग 2 लाख कर्मचारी हैं।

हर घंटे 10 लोगों को मिलता है रोजगार

टीसीएस ने 20,409 लोगों को नौकरी पर रखा है। यहीं नहीं 90 दिनों के अंतराल में कंपनी में हर रोज 27 लोगों को नौकरी दी। इसका अर्थ यह होता है कि कंपनी ने इस दौरान घंटे में करीब 10 लोगों को रोजगार दिया है यानी कि 6 मिनट में एक आदमी को रोजगार दिया गया जो अपने आप में ही किसी रिकॉर्ड से कम नहीं हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top