नशे की लत छोड़कर उन्हीं पैसों से 7 साल में लगाए हजार पौधे, जाने क्यों और कैसे.

nasha

नशे की लत छोड़कर उन्हीं पैसों से 7 साल में लगाए हजार पौधे मुंह के स्वाद को बदलने में लगे गुटके की लत के कब लोग गुलाम हो जाते हैं उन्हें पता भी नहीं चलता। इस लत की वजह से रोज गुटके पर 30 से 40 रुपए बर्बाद कर देते हैं एक बार गुटका खाने की लत लग जाती है तो कितना भी कोशिश करिए आदत छुटती नहीं है, जो आगे चलकर भयंकर बीमारी का कारण बन जाती है।

लोग गुटखे के ऐसे आदि हो जाते है कि यह भूल जाते हैं कि वह अपने साथ अपने परिवार को भी बीमार कर रहे हैं और अपने साथ अपने बच्चों का भविष्य अंधकार में डाल रहे हैं लेकिन आप चाह जाएं किसी भी कार्य को करना तो दुनिया की कोई भी शक्ति उस कार्य को करने से आप को रोक नहीं सकती । कहते हैं ना “जहांँ चाह वहांँ राह” इसी कहावत को सच करके दिखाया है राजस्थान के बूंदी जिले में रहने वाले महावीर प्रसाद ने जिन्होंने नशे की आदत छोड़ कर एक मिसाल कायम की महावीर ने गुटके की आदत छोड़ कर उन पैसों से 1000 पौधे लगाकर यह साबित कर दिया कि अगर आदमी किसी भी चीज को करने की ठान ले तो मुश्किलें खुद ही अपना रास्ता बदल लेते हैं।

महावीर आज भी लगातार पौधारोपण कर रहे हैं जिन्होंने एक हनुमान वाटिका बनाई है जिसमें कुल 61 प्रजाति के हजार पौधे लहलहा रहे हैं जो महावीर जैसे अनेकों लोगों को प्रेरणा दे रहे हैं कि वे अपनी बुरी लत से निजात पा सकते हैं अगर वह अपने अंदर दृढ़ संकल्प कर ले और अपनी आदत बदल कर एक मिसाल बन सकते हैं । अपने उन्हीं पैसों का इस्तेमाल अपने घर अपने परिवार अपने बच्चों के लिए अच्छे कार्य में लगा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top