नाना पाटेकर और उनकी पत्नी नीलाकांति बिना तलाक क्यों रहते हैं एक दूसरे से अलग जानिए वजह……..

pawan

नाना पाटेकर बॉलीवुड एक्टर जिन्हें कौन नहीं जानता है नाना पाटेकर के अभिनय से सब प्रभावित होते हैं नाना पाटेकर केवल अभिनय ही नहीं बल्कि सामाजिक कार्यों में भी बहुत ज्यादा ही रुचि लेते हैं और जिसके कारण उन्हें समाज में बहुत ही इज्जत और सम्मान मिलता है

नाना पाटेकर के डायलॉग आज भी लोगों के जुबां पर है उनके देशभक्ति वाली फिल्म आज भी लोगों का भरपूर मनोरंजन करते है उन फिल्मों में तिरंगा, क्रांतिवीर, यशवंत जैसी फिल्में शामिल हैं। नाना पाटेकर ने न केवल हिंदी फिल्मों में बल्कि मराठी फिल्मों में भी अपने अभिनय का परचम लहराया है। नाना पाटेकर अपनी समाज सेवा के चलते महाराष्ट्र में काफी लोकप्रिय हैं।

जिस समय लातूर में पड़े अकाल से किसानों की आत्महत्या करने की संख्या बढ़ रही थी उसी समय नाना पाटेकर ने लोगों का ध्यान उस दर्द की ओर खींचा और इसके लिए उन्होंने एक फाउंडेशन बनाया जिसके जरिए वह जरूरतमंद लोगों की मदद किया करते थे। फिल्म में तो नाना पाटेकर को लोग बखूबी जानते हैं उन्हें लोग एक समाज सेवक के रूप में ही जानते हैं लेकिन उनकी निजी जिंदगी के बारे में बहुत कम ही लोगों को पता है तो चलिए आज हम जानते हैं…

साल 1968 में नाना पाटेकर ने पूणे की रहने वाली नीलाकांति पाटेकर से शादी की। नाना पाटेकर और नीलाकांति की मुलाकात एक थिएटर में हुई थी, नीलाकांति मराठी थिएटर में काम किया करती थी। बीएससी ग्रेजुएट होने के बाद नीलाकांति ने बैंकर के रूप में अपने कैरियर की शुरुआत की। धीरे-धीरे इनकी मुलाकात दोस्ती में बदल गए और कुछ समय बाद दोनों ने शादी कर लिया लेकिन शादीशुदा होते हुए भी इन दोनों ने अलग अलग रहने का फैसला किया और आपसी सहमति से वह अलग अलग रहने भी लगे।

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो इन दोनों के अलग होने की वजह मनीषा कोइराला है ऐसा कहा है कि नाना पाटेकर और मनीषा कोइराला के अफेयर का पता उनकी पत्नी को लग गया था। जिसके बाद वह घर छोड़ कर चली गई लेकिन नाना पाटेकर ने इन बातों को मानने से इनकार किया है।

नाना पाटेकर और नीलाकांति का एक बेटा मल्हार पाटेकर है। नाना पाटेकर ने एक इंटरव्यू में बताया था कि 27 साल की उम्र में मेरी शादी हो गई 28 का हुआ तो पिता को खो दिया और इसके ढाई साल बाद मेरे बड़े बेटे की भी मौत हो गई जन्म से ही उसका होंठ कटा हुआ था और कई अन्य दिक्कतें भी थी।

बेटे के मौत ने नाना पाटेकर को तोड़ कर रख दिया वह बहुत समय तक घर से बाहर नहीं निकले लेकिन जब उन्हें दूसरा बेटा मल्हार हुआ था वह उनकी जिंदगी में फिर से खुशियां लौट आई।

नाना पाटेकर ने नीलाकांति से शादी के दौरान सिर्फ ₹750 ही खर्च किए थे, यह उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था। नाना पाटेकर के मुताबिक उस समय उनकी महीने की वही कमाई थी और उसी कमाई से उन्होंने शादी की। नीलाकांति थिएटर में काम करते हुए भी फिल्मों से दूर रही, उन्होंने केवल एक ही फिल्म ‘आत्मविश्वास’ की थी जिसे सचिन पिलगांवकर ने डायरेक्ट किया था और इस फिल्म के लिए उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड भी मिला था।

इस समय की बात की जाए तो नीलाकांति मराठी सिनेमा में काम कर रही हैं और नाना पाटेकर को तो सभी जानते हैं समाज सेवा उनकी पहली प्राथमिकता बनी हुई है और वह इसी पर काम कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top