कोरोना की जंग में हार गए उड़ता सिख, प्रधानमंत्री मोदी ने श्रद्धांजलि देते हुए कही यह बड़ी बात, जो सभी भारतीयों के दिल को छू जाएगी.

भारत के ओलंपिक पदक विजेता मिल्खा सिंह आज दुनिया में नहीं रहे उन्होंने जो उपलब्धि भारत को हासिल करके दिए हैं और काफी सराहनीय है मिल्खा थी पिछले 1 महीनों से कोरोना के चपेट में आ गए थे जिस कारण से उनका आज निधन हो गया . जबकि इसी सप्ताह में उनकी पत्नी निर्मल मिल्खा सिंह का भी देहावसान हुआ था.

हम आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही Corona नेगेटिव आए हुए मिल्खा सिंह जी आज इस नश्वर शरीर को त्याग कर दिया. इसको देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काफी शोक व्यक्त किया है और मिल्खा सिंह को भाव पूर्वक श्रद्धांजलि अर्पित की प्रधानमंत्री मोदी जी ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने लिखा है कि ‘हमने एक महान खिलाड़ी खो दिया’ देश के लिए जो उन्होंने हमें उपलब्धियां दी हैं उनके सदैव आदर के साथ नाम लिया जाएगा. मिल्खा सिंह पूरे भारत के चहेते खिलाड़ी थे जिनका उपलब्धि पूरे देश के लिए और पूरा देश उनके इस उपलब्धि का सदैव ऋणी रहेगा.

ए रहे मिल्खा सिंह की कुछ उपलब्धियां

मिलखा सिंह का जन्म गोविनदपुर 20 नवम्बर 1929 को एक राठौड़ राजपूत सिख परिवार में हुआ था। वे एक सिख धावक हैं, जिन्होंने रोम के 1960 ग्रीष्म ओलंपिक और टोक्यो के 1964 ग्रीष्म ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। उनको “उड़ता सिख” का उपनाम दिया गया हैं। वे भारत के बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक हैं। और ये देश शान है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top