भैंस ने बचाई मालिक की जान , बाघ के मुँह से निकाल बचाया मालिक की जिंदगी ।

bagh vs bhais

आज के समय में इंसान से अच्छा तो जानवर ही है । जो की आज उसका प्रमाण देकर साबित कर दिया है । मै आपको एक ऐसी घटना के बारे में बताने जा रहे है । जो की एक अजीब सी घटना है आप सुनकर हैरान हो जाओगे ।अब तक आप मालिक द्वारा अपने पालतू मवेशियों को हिंसक जानवरों से बचाने की घटनाएं सुनी थीं । लेकिन आज  मध्य प्रदेश के बांधवगढ़ के जंगलों में बाघिन के जबड़ों में फंसे अपने मालिक को देख भैसो से नहीं रहा गया और सभी भैस एकत्रित होकर झुण्ड बनाकर बाघिन के ऊपर धावा बोल दी । आखिरकार भैसो की एकत्रित संगठन ने बाघिन को भगा के मालिक की जान बचाने में सफल रही ।

इस प्रकार से भैंसों ने बचाई मालिक की जान

ये पूरी घटना बाघों के गढ़ कहे जाने वाले बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के जंगलों का है. बांधवगढ़ के जंगलों से सटे गांवों के चरवाहे कई बार पालतू मवेशियों को चराते चराते इस जंगल की ओर चले आते है । उमरिया जिले के बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व से लगे गांव कोठिया घनघोर जंगलों से घिरा हुआ है जहां का चरवाहा रामकिशोर यादव अपनी भैंसों को लेकर जंगल चराने गया था। वही भैसो को प्यास लगी तो उनको पास के तालाब में पानी पिलाने ले गया । वही पर अपने शिकार का इंतज़ार कर रही बाघिन ने भैसो के मालिक रामकिशोर यादव के ऊपर धावा बोल दिया ।  मदद की गुहार लगाने के लिए रामकिशोर जोर जोर से चिल्लाने लगा । मालिक की आवाज सुनकर भैसे झुण्ड बनाकर आयी । जिसे देख कर बाघिन डर के भाग गई ।

फिर रामकिशोर यादव ने अपने मोबाइल से पुलिस और बन विभाग को फोन किया । बन बिभाग वालो ने  बताया की मादा बाघिन बच्चे दिए है इसे देख कर गांव में हाई अलर्ट जारी किया गया है । उधर घायल चरवाहे को अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी जान बचाई गई । अभी वो खतरे से बाहर है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top