जानें क्यों मनाते है ,अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

international womans day

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस International Woman’s Day 2021 

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस हर साल 8 मार्च को मनाया जाता है। आज अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस एक वैश्विक दिवस है जो महिलाओं की सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक उपलब्धियों का जश्न मनाता है। 8 मार्च को देश भर में इंटरनेशनल वूमंस डे मनाया जाएगा। कई कंपनियों, संस्‍थाओं, सरकारी और प्राइवेट ऑफिस के अलावा रहवासी सोसायटी, दोस्‍तों के बीच, क्‍लास में, स्‍कूल और कॉलेजों में इवेंट किए जाएंगे।

महिलाओं का महत्‍व बताने वाले निबंध और आलेख लिखे जाएंगे। इसके लिए स्‍टूडेंट्स, टीचर्स और पेरेंट्स भी तैयारी कर रहे हैं। यहां हम आपको बताने जा रहे हैं वूमंस डे के मनाए जाने का वजह सीधी सी बात है यदि आप बेटी नहीं बचाओगे कल बहु कहा से लाओगे और यदि उनको आजादी से नहीं रखोगे तो ओ जागरूक नहीं होगी इसी वजह से मनाया जाता है इंटरनेशनल वोमंस डे इसलिए लड़का लड़की एक समान और दे सबको शिक्षा और सबको सम्मान इसलिए आज हम नारी सशक्तिकरण को बढ़ावा देने की जरुरत है ।

8 मार्च  लैंगिक समानता में तेजी लाने के लिए कार्रवाई का भी संकेत है। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस एक ऐसा दिन है जो पूरे इतिहास और दुनिया भर में महिलाओं की उपलब्धियों को सम्मानित करने के लिए समर्पित है, और आमतौर पर सभी अलग-अलग पृष्ठभूमि और संस्कृतियों की महिलाओं के लिए एक दिन है जो लिंग समानता के लिए लड़ने के लिए एक साथ आते हैं।

समाज में नारी के प्रति सुधार 

अर्थात महिला के उत्पीड़न जैसे भ्रूण हत्या , यौन शोषण , घरेलु हिंसा अदि प्रकार के समस्याओ को सुलझाने के लिए मनाया जाता है । आज कितनी महिलाये आत्महत्या कर ले रही महिला उत्पीड़न के वजह से , हालाकि देखा जाय तो समाज में सुधार काफी मिला है । मगर अभी भी जरुरत है सुधार की कई कंपनियों, संस्‍थाओं, सरकारी और प्राइवेट ऑफिस के अलावा रहवासी सोसायटी, दोस्‍तों के बीच, क्‍लास में, स्‍कूल और कॉलेजों में इवेंट किए जाएंगे। महिलाओं का महत्‍व बताने वाले निबंध और आलेख लिखे जाएंगे। इसके लिए स्‍टूडेंट्स, टीचर्स और पेरेंट्स भी तैयारी कर रहे हैं ।

नारी ही शक्ति है नर की नारी ही है शोभा घर की जो उसे उचित सम्मान मिले घर में खुशियों के फूल खिलें महिला दिवस की हार्दिक बधाई आंचल में ममता लिए हुए नैनों से आंसु पिए हुए सौंप दे जो पूरा जीवन फिर क्यों आहत हो उसका मन महिला दिवस की हार्दिक बधाई बेटी-बहु कभी माँ बनकर सबके ही सुख-दुख को सहकर अपने सब फर्ज़ निभाती है तभी तो नारी कहलाती है । इसलिए नारी की हमेशा सम्मान करना चाहिए ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top