अपने जान पर खेल कर दोस्त ने दोस्त की जान बचाई 24 घंटे में 1300 km तक लगातार कार चलाके……..

dost

देश में कोरोना की दूसरी लहर कोहराम सा मचा रखा है । वही कितने दोस्त यार अपने को छोड़ के दुनिया को अलविदा भी कह दिए है ऐसे में एक घटना हम बता रहे है जहाँ की झारखण्ड का रहने वाले दो दोस्त इनकी आपस में इतनी गहरी दोस्ती थी की मानो कृष्णा और सुदामा से कम नहीं है ।

कोरोना महामारी ने जहां देश के तमाम राज्यों को बेहाल कर रखा है, वहीं संकट के इस दौर में एक-दूसरे की मदद के किस्से भी कम नहीं हैं. ऐसी ही एक मिसाल रांची के रहने वाले देवेंद्र कुमार शर्मा ने पेश की है. इन्होंने अपने दोस्त की जान बचाने के लिए जो कुछ भी किया, ज्यादातर वैसी कहानियां फिल्मों में ही देखने को मिलती है मगर यहाँ पर हकीकत में कुछ ऐसा ही हुआ है की एक कोरोना पॉजिटिव दोस्त को ऑक्सीज़न पहुंचाने रांची से गाजियाबाद 24 घंटा में ऑक्सीजन के सिलेंडर के साथ पहुंचा

दरअसल देवेंद्र को 24 अप्रैल रात को रांची में वैशाली गाजियाबाद में रहने वाले संजय सक्सेना का फोन आया कि कोविड-19 पॉजिटिव राजन के लिए ऑक्सीजन की सख्त जरूरत है तो क्योकि इन दोनों के कॉमन दोस्त देवेंद्र और राजन के एक और कॉमन फ्रेंड संजीव सुमन की कुछ ही दिन पहले 19 अप्रैल को नोएडा में कोविड-19 से ही मौत हो गई थी इसी कारन से वह अपने एक और दोस्त को न खो दे इसलिए उसने अपने जान पे खेल के अपने दोस्त की जान बचाई ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top