कोरोना: राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार, वैक्सीनेशन जरूरी

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान राहुल गांधी ने कोरोना मसले को लेकर केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा. राहुल ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर आनी तय है, ऐसे में सरकार को अभी से ही तैयारी करनी होगी.

rahul

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान राहुल गांधी ने कोरोना मसले को लेकर केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा. राहुल गांधी की ओर से कोरोना पर श्वेतपत्र जारी किया गया, साथ ही तीसरी लहर को लेकर सरकार को कई सलाह दी.

राहुल गांधी ने कहा कि वैज्ञानिकों ने कोरोना की दूसरी लहर को लेकर चेताया था, लेकिन सरकार ने कोई एक्शन नहीं लिया था. राहुल बोले कि पूरा देश जानता है कि तीसरी लहर आने वाली है, लेकिन हम फिर से वही गलती कर रहे हैं. राहुल ने कहा कि बेड्स, ऑक्सीजन और अन्य चीज़ों की तैयारी जो दूसरी लहर में नहीं हो पाई थीं, वो तीसरी लहर आने से पहले करनी ही चाहिए.

राहुल गांधी ने सुझाई चार बातें

कांग्रेस के व्हाइट पेपर को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि इसमें तीसरी लहर की तैयारी, दूसरी लहर में रही कमी, आर्थिक रूप से मदद दी जाए, ताकि जब थर्ड वेव आए तो आम लोगों को कम से कम परेशानी हो. राहुल ने कहा कि सरकार को मुआवजे की व्यवस्था दी जानी चाहिए, जिनके परिवार में कोरोना से मौत हुई है उन्हें मदद दी जाए.

सरकार ने उड़ाया था मनमोहन सिंह का मज़ाक: राहुल

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी बोले कि सिर्फ वैक्सीनेशन ही एक उपाय है, बीते दिन वैक्सीनेशन में अच्छा काम हुआ. लेकिन, ऐसा सिर्फ एक दिन के लिए ही नहीं बल्कि हर रोज़ होना चाहिए ताकि सभी को टीका लग सके. राहुल बोले कि वैक्सीनेशन के मामले में राज्यों को बीजेपी-कांग्रेस में ना बांटें, हर किसी को टीका लगना जरूरी.

राहुल गांधी ने कहा कि हमारा व्हाइट पेपर सिर्फ गलतियों को उजागर करने वाला है, अगर सरकार इस इनपुट को लेती है तो सरकार को फायदा होगा. राहुल बोले कि जब मनमोहन सिंह ने सलाह दी तो सरकार के मंत्री ने मज़ाक उड़ाया, लेकिन दो महीने बाद वही सरकार को करना पड़ा.

पीएम मोदी पहले से ही मार्केटिंग में घुस गए थे: राहुल 

राहुल गांधी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में कई ऐसे लोगों की जानें गई हैं, जिन्हें बचाया जा सकता था. इसका सबसे बड़ा कारण ऑक्सीजन की कमी, अस्पतालों में बेड्स का संकट था. सरकार को इसी की तैयारी पहले करनी चाहिए थी, अब तीसरी लहर से पहले भी तैयारी करना होगा.

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि सिर्फ भारत में ही प्राइवेट अस्पतालों में पैसे देने पड़ रहे हैं, बाकी देशों में हर जगह मुफ्त में टीका लग रहा है. राहुल ने कहा कि पीएम मोदी पहले भी मार्केटिंग में घुसे हुए थे, जिसका नतीजा देश ने भुगता है. राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी के आंसू उन परिवारों के आंसू नहीं मिटा पाएंगे, जिन्होंने किसी अपने को खोया है.

दरअसल और देशो में कोरोना की वैक्सीन बिल्कुल मुफ्त लगाई जा रही है है हमारे देश हिंदुस्तान में कोरोना वैक्सीन का पैसा देना पड़ रहा है प्राइवेट हॉस्पिटल्स में जो कि गकत है क्योंकि यहां किसी एक या किसी वक शहर को नहीं हुई है ये बीमारी बल्कि पूरे देश परीशान है पूरी दुनिया परीशान है इस महामारी से ऐसे में सरकार को चशिये की जल्द से जल्द वैक्सीनेशन कराये जिसके लिए प्राइवेट हॉस्पिटल में भी वैक्सीनेशन मुफ्त होना चाहिए ताकि जल्द से जल्द सब तक वैक्सीन पहुचाया जा सके।

आप राहुल गांधी की बातों से कितना इत्तेफाक रखते हैं हमें कॉमेंट बॉक्स में बताएं हमें आपके जवाब का इंतज़ार रहेगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top