ड्रैगन का एक और सामने आया काला सच, चोरी चोरी कर रहा था यह काम ।

china

चीन हमेशा से पीठ के पीछे से वॉर करने में महारत हाशिल है । चीन ने ऐसे ही करके कोरोना वायरस का ऐसा मार मारा है जो की पूरी दुनिया को परेशान करके रख चूका है । चीन हमेशा अपने को ऊपर दिखने के लिए सभी देशो के ऊपर अपनी अकड़ कायम किया है । जहां भारत और चीन विवाद के बिच हल ही में समझौता हो गया था । मगर एक बार फिर चीन का एक बार फिर से काला चेहरा नजर आने लगा है । रिपोर्ट के अनुसार, चीन सेल्फ-प्रोपेल्ड होवित्जर, हथियारबंद असॉल्ट व्हीकल और लंबी दूरी के मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर सिस्टम तैनात कर चुका है और अब वह भारतीय सीमा के नजदीक दूसरे अत्याधुनिक हथियारों की तैनाती में लगा हुआ है. बीजिंग के इस कदम से तनाव बढ़ने की आशंका है।

china vs india

आशंका तो तब हुई जब चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने मोबाइल हिट एंड रन फायरिंग पोजिशन्स के लिए नए सेल्फ-प्रोपेल्ड रैपिड-फायर मोर्टार (Self-Propelled Rapid-Fire Mortars) की तैनाती का ऐलान किया है । जिसमे बीजिंग ने इससे पहले सेल्फ-प्रोपेल्ड होवित्जर, हथियारबंद असॉल्ट व्हीकल और लंबी दूरी के मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर सिस्टम तैनात किए हैं. मिसाइल सिस्टम और रॉकेट को HQ-17A फील्ड एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम (HQ-17A Field Air Defense Missile System) और PHL-11 122 मिलीमीटर कैलिबर सेल्फ-प्रोपेल्ड मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर सिस्टम (PHL-11 122mm Caliber Self-Propelled Multiple Rocket Launcher System) के तौर पर पहचाना गया है.

china

क्या भारत और चीन के बिच फिर से बनेगी युद्ध की आशंका 

जिस हिसाब से चीन तैयारी कर रहा है कुछ कहा नहीं जा सकता की युद्ध कब छिड़ सकती है । वही भारत भी अपनी तैयारी में जुड़ने लगा है और भारत की भी वायु सेना और जल सेना ने कमर कश ली है जबकि थल सेना भी चौकन्ना है । हाल ही में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा था कि चीन के साथ भारत का रिश्ता दोराहे पर खड़ा है. यहाँ पर कुछ भी मोड़ पर मामला जा सकता है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top