जानिए चमगादड़ उलटा क्यों लटकते है , और जमीन पर क्यों नहीं बैठते ।

दुनिया में पक्षी तो बहुत प्रकार की है मगर एक ऐसी पक्षी जो की कभी जमीन न बैठा हो और हमेशा उल्टा लटका रहता है ऐसा कोई पक्षी है तो चमगादड़ । ये पक्षी पेड़ो पे या गुफाओ में में हमेशा उलटा लटके रहते हैं यही नहीं दुनिया में ताहि एक स्तन धारी पक्षी है क्या अपने कभी सोचा है । की ये उलटे क्यों लटके रहते है तो आइये हम आज आपको बता रहे है , की चमगादड़ जमीन पर क्यों नहीं बैठते और पेड़ो और गुफाओ में क्यों उलटे लटके रहते है । इसका मुख्य कारण यह होता है कि उनको उड़ने में आसानी रहती है ।

 vgg

दरअसल चमगादड़ के शरीर के अनुसार उनका पैर विकाश नहीं हो पाता है। और अपने भारी शरीर के वजह से यह कभी जमीन पर नहीं बैठते अगर किसी तरह से बैठ भी जाते है तो वह लेटे जैसा रहते है । अब आपके मन में एक सवाल गूंज रहा होगा की पेंड पर अथवा गुफाओ में उल्टा लटकने पर यह गिरते क्यों नहीं और कैसे सोते होंगे । चमगादड़ पक्षी की पैर की नशे काफी मजबूत होती है जिनकी वजह से खिचाव हो जाता है अर्थात इनकी पैरो की नसे इनके शरीर के भारी वजन को संभालकर पैरो में मजबूती लाती है जिसके कारण  चमगादड़ उल्टा सो भी लेते है गिरते नहीं ।

nn

चमगादड़ एक ऐसा प्राणी है जिसे निशाचर माना जाता है । यह राक्षसों की तरह इनका व्यवहार रहता है । दिन में इनको दिखाई कम देता है और कितने लोग जानते हैं , कि इनकी आंखे नहीं होती तो ऐसा आपका भूल है । क्यों कि इनके आंखे होती है चमगादड़ दो प्रकार से भोजन के लिए शिकार करते है । पहला जो आंख से देखकर वही दूसरा प्रति ध्वनि  सुनकर अतः हमें आशा है कि आपको पता चल गया होगा कि चमगादड़ उल्टा क्यों लटकते है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top