लॉकडाउन में बॉक्सिंग प्रैक्टिस करके, 8 साल के बच्चे ने तोड़ा वर्ल्ड रिकॉर्ड

Boxing practice in lockdown

सोनीपत के सेक्टर 23 के रहने वाले 8 साल के मोर्टिन मलिक जो कि अभी कक्षा 3 में पढ़ते हैं, लेकिन उन्होंने 8 वर्ल्ड रिकॉर्ड और तीन एशिया रिकॉर्ड अपने नाम कर पूरे भारत का नाम रोशन किया है। वर्ल्ड स्तर पर नाम कमाने वाले 8 साल के मार्टिन मलिक ने लॉकडाउन के दौरान ढाई साल पहले घर पर ही प्रैक्टिस शुरू की थी और अब भारत, एशियाई नहीं बल्कि पूरे विश्व में रिकॉर्ड तोड़खर किक बॉक्सिंग में अपना नाम कमा लिया।

किक बॉक्सिंग में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के बाद मार्टिन को अब लंदन की पार्लियामेंट मार्च में सम्मानित किया जाएगा। मार्टिन के परिवार वाले हरियाणा सरकार से मदद की गुहार लगा रहे हैं ताकि वह भविष्य में अच्छा प्रदर्शन कर ओलंपिक में देश का नाम रोशन कर सकें।

8 विश्व रिकार्ड अपने नाम किया
लॉकडाउन में लोग जहां घर पर बैठकर मोबाइल से टाइम पास कर रहे थे। वहां यही कक्षा तीन का छात्र जो केवल 8 साल के हैं। बॉक्सिंग सीखी। मार्टिन मलिक अपने पिता की सहायता से किक बॉक्सिंग की प्रैक्टिस काफी अच्छे स्तर पर किया और पावेल के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ दिया।

इतना ही नहीं भारत के दो, एशिया के दो और इस छोटे से किक मास्टर ने विश्व स्तर पर आठ रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। 30 मिनट में 918 पंच करने का विश्व रिकॉर्ड लो उसके पावेल के नाम था जिनकी उम्र 27 साल बताई जा रही है, लेकिन महज 8 साल की उम्र में मार्टिन मलिक ने 3 मिनट 11055 पंच मारकर मार्टिन ने इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया।

मिलने पहुंचे नीरज चोपड़ा
मार्टिन मलिक की प्रतिभा से खुश होकर ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा भी उन्हें डिनर पर बुलाया और उनके साथ पंच की प्रैक्टिस भी करवाई थी। मार्टिन को लेकर नीरज चोपड़ा ने कहा उनके सिथ पंच के प्रैक्टिस करके मजा आया और वह उस बच्चे के साथ हैं, आगे जाकर वह अच्छा कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top