इस बर्थडे वाले होते हैं धनवान लेकिन फिर भी रहते हैं परेशान…………

सौंदर्य भोग, विलास यौन सुख, भौतिक वस्तु का प्रतिनिधित्व करने वाले ग्रह शुक्र के कुंडली मजबूत होने से सारे सुख प्राप्त होते हैं। शुक्र की कुंडली में मजबूत होने से अन्य राशि के जातक भी प्रभावित होते हैं और इससे उनके पास धन की कोई कमी नहीं रहती है। वह धन-संपत्ति, सोना-चांदी इन सब में खूब वृद्धि होती है तथा उनके सौंदर्य में भी 4 चांद लगते होते हैं।

अंक ज्योतिष के आधार पर किसी भी व्यक्ति की लाइफ और उसके स्वभाव के बारे में जाना जा सकता है। जिन लोगों का जन्म महीने की 6, 15 या 24 तारीख को होती है उनका मूलांक 6 होता है और इस मूलांक का स्वामी शुक्र ग्रह होता है। शुक्र ग्रह कि जिस पर विशेष कृपा बनी रहती है उन्हें धन-संपत्ति की कोई कमी नहीं होती हैं।

शुक्र ग्रह धन-संपत्ति के साथ-साथ भोग-विलास का भी ग्रह माना जाता है। इस मूलांक के जातकों में विपरीत लिंग के प्रति काफी आकर्षक का स्वभाव बना रहता है और जिसके कारण वह उसे हर संभव अपना बनाने का प्रयास करते हैं। जिसके कारण इन्हें कई परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है।

मूलांक की मानें तो इस मूलांक के जातक सभी से बहुत जल्दी खूब मिलजुल जाते हैं लेकिन इनके जीवन में काफी उतार-चढ़ाव आते हैं इसके बाद भी इनका गृहस्थ जीवन काफी सुख में रहता है।

6 मूलांक के जातकों की आर्थिक स्थिति कभी एक जैसी नहीं रहती है क्योंकि उनकी आय से अधिक खर्च करने की आदत बनी रहती है। लेकिन इनकी किस्मत इनके प्रयासों पर निर्भर करती है। यह जिस किसी भी काम में जितना अधिक प्रयास करेंगे वह उतने ही ज्यादा सफलता हासिल करेंगे। इन जातकों को अपने जीवन में धन-संपत्ति को लेकर अदालती मामलों में परेशान होना पड़ता है।

अगर भविष्य की बात करें तो हमारा मूलांक कुछ भी हो लेकिन अगर हमारे अंदर किसी भी कार्य को करने के लिए लगन होगी और हम उस कार्य को पूरी ईमानदारी से करेंगे तो उस कार्य में हमें सफलता अवश्य मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top