सौतेले पिता के दिए 30 लाख डॉलर से शुरू की और आज है 15 लाख करोड़ों के है मालिक

jeef

अमेजॉन सीईओ का पद छोड़ रहे जेफ बेजोस की कहानी
सीईओ पद छोड़ने के बाद भी अमेज़न बोर्ड के एग्जीक्यूटिव चेयरमैन बने रहेंगे।जेफ बेजोस 20 जुलाई को अपने भाई के साथ अंतरिक्ष की उड़ान भरने वाले हैं।

दुनिया के सबसे अमीर शख्स में से एक शख्स जेस बेजोेस 5 जुलाई को अमेजॉन के सीईओ का पद छोड़ दिए हैं उनके बाद यह पद एंड इजी संभाल लेंगे। बेजोस ने कहना है कि 5 जुलाई मेरे लिए भावुक कर देने वाला दिन था। 27 साल पहले 5 जुलाई 1994 को ही अमेजन की शुरुआत हुई थी।

– इंटरनेट पर किताबें बेचकर कैसे अमेज़न को ऑनलाइन शॉपिंग में बदल दिया

बेज़ोस ने सौतेले पिता के दिए $3 लाख से शुरुआत करके 15 लाख करोड़ की संपत्ति के मालिक बने। बेज़ोस से तलाक लेने के बाद उनकी पत्नी दुनिया की चौथी सबसे अमीर महिला बन गई थी।

– पैदा होने के एक साल में ही माता-पिता में हो गया तलाक

16 साल में ही इनकी मां का विवाह जाने-माने यूनिसाइकिलिस्ट के जोर्गेन्सन से हुई। इन्हीं से 1964 में जेस का जन्म हुआ उस वक्त जैकलिन हाई स्कूल में पढ़ती थी। जैकलिन और डेट की शादी एक साल में ही टूट गए। तलाक के बाद जैकलिन के पास दोहरी जिम्मेदारी आ गई उन्हें अपना कैरियर और बेटे की परवरिश दोनों संभालने थे। उन्होंने कॉलेज में दाखिला लिया जहां उनकी मुलाकात माइक बेजोस से हुई । जेस 4 साल के थे तो उनकी मां ने माइक से शादी कर ली बेज़ोस नाम अपने दूसरे पिता माइक से मिला।

-हाई स्कूल में ही शुरू कर दिया था बिजनेस

बचपन से ही बेजोस को यह जानने में रुचि थी कि कौन सी चीज कैसे काम करती है इसके लिए बेजोफ ने अपने पैरंट्सके गैराज को लेबोरेटरी में बदल दिया। हाई स्कूल के दौरान ही बेजोस ने अपने पहले ड्रीम इंस्टीट्यूट की शुरुआत की यह एक एजुकेशनल समर कैंप था। इसमें भाग लेने वाले छात्रों से बेजोस ने $600 जुटाए। बेजोस ने कंप्यूटर साइंस और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के साथ वेस्टर्न यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किया।

-बेजोस की पहली नौकरी में
बेजोस को 1988 में इंटेल, बेल लैब्स और एंडरसन कंसल्टिंग की तरफ से जॉब ऑफर हुआ। बेजोस ने वॉल स्ट्रीट में इन्वेस्टमेंट फर्म डीई शॉ एंड कंपनी में काम शुरू किया। केवल आठ साल में ही वहां वाइस प्रेसिडेंट बन गए। 1993 में कंपनी छोड़कर ऑनलाइन बुकस्टोर लॉन्च किया।
-अमेजन की शुरुआत एक छोटे से गैराज
बेज़ोस ने अपने पिताजी के गैराज से 5 जुलाई 1994 को अमेजन की शुरुआत की है। इसमें उनके पेरेंट्स मने30 लाख का निवेश किया
उन्होंने अमेजॉन वेबसाइट बेटा टेस्टिंग के लिए 300 दोस्तों की मदद ली।16 जुलाई 1995 को दक्षिण अमेरिकी नदी के नाम पर अमेजन डॉट कॉम खोला।

-अमेज़न से 2 महीने में ही $20हजार की बिक्री

अमेजॉन 30 दिनों के अंदर अमेरिका समेत 45 देशों में किताबें बेची 2 महीने में बिक्री $30 प्रति सप्ताह तक पहुंची ऐसे शुरुआत की कल्पना बेजोस ने भी नहीं की थी। 2 साल बाद यह स्टार्ट और अपने प्रतिद्वंद्वियों को पीछे छोड़ते हुए ई-कॉमर्स सेक्टर में लीडर बन गया।

-हेलीकॉप्टर क्रैश में बाल-बाल बचे बेज़ोस
एक हेलीकाप्टर में सवार होकर टैक्सास जा रहे थे उनके साथ उनका वकील और पायलट चार्ल्स अकेला भी थे। तेज हवाओं के कारण हेलीकॉप्टर अनियंत्रित हो गया और एक नदी में गिर गया बेजोस और पर्यटक को हल्की चोट आई लेकिन वकील की रीढ़ की हड्डी टूट गई।इस घटना के अगले साल बेज़ोस ने फास्ट कंपनी को बताया कि अगर संभव हो तो हेलीकॉप्टर की यात्रा से बचें।

-अमेजिंग की शुरुआत में पत्नी का अहम किरदार
अमेज़न की शुरुआत मैकेंजी बेजोस का भी बड़ा अहम सहयोग रहा है। 25 साल तक साथ रहने के बाद बेज़ोस और उनकी पत्नीका तलाक हो गया तलाक होने के बाद मैकेंजी दुनिया की चौथी सबसे अमीर महिला बन गई।

बेज़ोस के परिवार में उनकी मां सौतेले पिता के अलावा 4 बच्चे हैं बेज़ोस के तीन बेटे और एक गोद ली हुई बेटी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top